बड़ी खबरबिलासपुर

बड़ी खबर। करगीकला पीएचसी में एक्सपायरी दवा मिलने पर फार्मासिस्ट और सेक्टर सुपरवाइजर को कलेक्टर ने किया सस्पेंड

बिलासपुर। कलेक्टर अवनीश शरण ने आज कोटा के शिवतराई में पीएम जनमन योजना की समीक्षा के बाद शासकीय योजनाओं के मैदानी हालात का जायज़ा लेने करगीकला और पीपरतराई का आकस्मिक दौरा किया। उन्होंने इन ग्रामों में स्वास्थ्य केंद्र और खाद बीज वितरण सोसायटी का निरीक्षण किया। हितग्राहियों से चर्चा कर सुविधाओं की जानकारी ली।

करगीकला पीएचसी में दवाई वितरण कक्ष में एक्सपायरी दवा मिलने पर फार्मासिस्ट मुकेश पोर्ते और सेक्टर सुपरवाइजर को सस्पेंड करने के निर्देश दिए। ग्रामीण चिकित्सा सहायक का एक इंक्रीमेंट रोकने का भी निर्देश दिया।

कलेक्टर ने करगी कला पीएचसी में दवाई वितरण कक्ष, ओपीडी, प्रसव कक्ष, पुरुष वार्ड सहित पूरे अस्पताल का बारीकी से निरीक्षण किया। उन्होंने मरीजों से सहानुभूति रखते हुए सौहार्दपूर्ण व्यवहार करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि मरीजों को किसी प्रकार की परेशानी ना हो, इसका विशेष ध्यान रखा जाए। कलेक्टर ने प्रसव के संबंध में जानकारी ली।

डॉक्टर ने बताया कि यहां हर माह औसतन 10 प्रसव होता है। कलेक्टर ने सभी को निर्देश दिए कि समय पर उपस्थित होकर बेहतर स्वास्थ्य सुविधा मुहैया कराए। उन्होंने बीएमओ को सभी पीएचसी का नियमित निरीक्षण करने के निर्देश दिए। इसके बाद उन्होंने पीपरतराई उपस्वास्थ्य केंद्र का भी जायजा लिया। यहां ग्रामीणों से चर्चा कर स्वास्थ्य सुविधाओं की जानकारी ली। ग्रामीणों ने स्वास्थ्य सुविधाओं पर संतुष्टि जाहिर की।

सोसायटी में भंडारण वितरण का लिया जायजा

खेती किसानी के मौसम में कलेक्टर आज करगीखुर्द और पीपरतराई सोसायटी का भी निरीक्षण करने पहुंचे। यहां उन्होंने किसानों से चर्चा कर खाद बीज की उपलब्धता की जानकारी ली। किसानों ने बताया कि उन्हें यहां समय पर खाद बीज मिल जा रहा है ।किसी प्रकार की कोई दिक्कत नहीं हो रही है। उन्होंने किसानों को सलाह दी कि खाद बीज का अग्रिम उठाव कर ले।

कलेक्टर ने समिति प्रबंधक को भी हिदायत दी कि किसानों की सुविधा का पूरा ध्यान रखा जाए। उनके पीने के लिए पानी सहित अन्य सुविधा मुहैया की जाए। किसानों को किसी भी हाल में कोई परेशानी ना हो।

निरीक्षण के दौरान सीईओ जिला पंचायत आर पी चौहान ,एसडीएम कोटा युगल किशोर उर्वशा, सीएमएचओ प्रभात श्रीवास्तव सहित अन्य अधिकारी कर्मचारी मौजूद थे।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!